“उद्धव ने पवार के साथ की बैठक, MVA में सीट बंटवारे के नामों की घोषणा की तैयारी”

“उद्धव ने पवार के साथ की बैठक, MVA में सीट बंटवारे के नामों की घोषणा की तैयारी”

“महाराष्ट्र में MVA के लिए लोकसभा सीटों का बंटवारा अभी तक पूरा नहीं हुआ”

26 मार्च 2024

लोकसभा चुनाव के लिए महाराष्ट्र में सीट बंटवारे पर शिवसेना (UBT) के प्रमुख उद्धव ठाकरे और NCP (शरदचंद्र पवार) के मुखिया शरद पवार के बीच सोमवार को दो घंटे तक बैठक हुई। हालांकि कौन कितनी सीटों पर लड़ेगा, ये साफ नहीं हो पाया। इस बीच, शिवसेना (UBT) आज यानी मंगलवार को 15 से 16 उम्मीदवारों के नामों की घोषणा कर सकती है।

उद्धव ठाकरे और शरद पवार के बीच हुई बैठक मातोश्री में हुई, जिसमें जयंत पाटिल और संजय राउत भी मौजूद रहे। बैठक की अहमियत का अंदाजा इसी से लगता है कि शरद पवार खुद मातोश्री पहुंचे थे। कुछ सीटों पर कांग्रेस और शिवसेना के बीच पेच फंसा हुआ है, इसलिए यह मीटिंग बुलाई गई थी।

जानकारी के मुताबिक, सांगली और दक्षिण मध्य मुंबई को शिवसेना (UBT) का कांग्रेस से टकराव है। अब देखना होगा कि शिवसेना (UBT) इन सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा करती है या नहीं।

दरअसल, महाराष्ट्र की 48 सीटों पर प्रकाश अंबेडकर की वंचित बहुजन आघाड़ी की वजह से भी पेच फंसा हुआ है। प्रकाश अंबेडकर ज्यादा सीटें मांग रहे हैं, जबकि सोमवार को संजय राउत ने कहा कि उन्हें चार सीटों का प्रस्ताव दिया गया है।

NDA के पाले में RSP की ओर से इस संदर्भ में राष्ट्रीय समाज पार्टी (RSP) ने अपने समर्थन का फैसला बदलकर एनडीए के साथ जाने का निर्णय लिया है।

RSP के अध्यक्ष महादेव जानकर 22 मार्च तक MVA के संपर्क में थे। उन्होंने बयान भी दिया था कि MVA उन्हें माढ़ा लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाए तो वो बारामती में सुप्रिया सुले को जीतने में मदद करेंगे, लेकिन महदेव जानकर के बारे में कांग्रेस और शिवसेना के बीच तनाव था। वह लगातार शरद पवार के संपर्क में थे और मांग कर रहे थे कि माढ़ा और परभणी सीट उनके हिस्से में दी जाए जिसमें माढ़ा सीट से वह खुद लड़ेंगे, लेकिन UBT और कांग्रेस की तरफ से उन्हें जवाब नहीं दिया जा रहा था

पोलटिकल