रविवार को दिल्ली में हुआ सीजन का अब तक सबसे ठंडा दिन, सर्द हवाएं ने बढ़ाई ठिठुरन; IMD ने जारी किया अलर्ट।

रविवार को दिल्ली में हुआ सीजन का अब तक सबसे ठंडा दिन, सर्द हवाएं ने बढ़ाई ठिठुरन; IMD ने जारी किया अलर्ट।

धुप नहीं निकलने और पूर्व से ठंडी हवा चलने से दिन का अधिकतम तापमान घट गया। उन्हें बताया गया कि पहली जनवरी को न्यूनतम तापमान भी दस डिग्री से आठ डिग्री सेल्सियस से भी कम हो सकता है। तापमान भी 16 डिग्री सेल्सियस से अधिक नहीं रह सकता है। इसलिए, इस सीजन का पहला ठंडा दिन पहली जनवरी को होने की संभावना है।

01 जनवरी 2024 , नई दिल्ली

दिल्ली में पश्चिमी विक्षोभ खत्म होने के बाद कोहरे से राहत मिली है, लेकिन ठंड बढ़ी है। दिसंबर के आखिरी दिन रविवार को सुबह में न्यूनतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस अधिक था, लेकिन पूरे दिन धूप नहीं हुई और पूर्व से आने वाली ठंडी हवा के कारण अधिकतम तापमान सामान्य से पांच डिग्री सेल्सियस नीचे गिर गया।

इसलिए रविवार न सिर्फ दिसंबर का दिन था बल्कि इस सीजन में सबसे ठंडा दिन भी था। इसके कारण ठिठुरन बढ़ी है। नए वर्ष के पहले दिन, मौसम विभाग के अनुसार, सीजन का पहला ठंडा दिन हो सकता है। इससे सुबह भी ठंड बढ़ सकती है। साथ में मध्यम से घने कोहरा हो सकता है। इसलिए, मौसम विभाग ने पहली जनवरी के लिए एक आरेंज अलर्ट जारी किया है।

दिल्ली का सर्वोच्च तापमान 15.9 डिग्री सेल्सियस था, जो सामान्य से पांच डिग्री कम था, मौसम विभाग ने बताया। इस श्रृंखला में यह सबसे कम है। उस जगह का सबसे कम तापमान 11.7 डिग्री सेल्सियस था, जो सामान्य से पांच डिग्री अधिक था।

तापमान सबसे अधिक 4.2 डिग्री सेल्सियस था और सबसे कम। इसके परिणामस्वरूप ठंड बढ़ी है। एक दिन पहले, सबसे अधिक तापमान 19.8 डिग्री सेल्सियस था। दिल्ली में मयूर विहार में सबसे गर्म था। यहाँ सबसे ऊंचा तापमान 13.3 डिग्री सेल्सियस और सबसे कम 11.9 डिग्री सेल्सियस था। मौसम विभाग ने बताया कि सुबह में आईजीआई एयरपोर्ट पर 300 मीटर की दृश्यता थी। इससे उड़ानें प्रभावित हुईं, लेकिन बाद में इसकी दूरी 900 मीटर हो गई।

वर्तमान में कोहरा की चादर जमीन से 100 से 150 मीटर की ऊंचाई पर छाई हुई है, मौसम विभाग के क्षेत्रीय निदेशक कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया। इसलिए आकाश साफ था, लेकिन पूरे दिन सूरज की रोशनी नहीं निकल पाई।

दिन का अधिकतम तापमान धुप नहीं निकलने और पूर्व की तरफ से ठंडी हवा चलने से गिर गया। उसने कहा कि पहली जनवरी को न्यूनतम तापमान भी दस डिग्री से आठ डिग्री सेल्सियस तक गिर सकता है। तापमान भी 16 डिग्री सेल्सियस के आसपास हो सकता है। इसलिए, इस सीजन का पहला ठंडा दिन पहली जनवरी को होगा। मौसम विभाग का कहना है कि दो जनवरी से चार जनवरी के बीच भी आकाश साफ रहेगा। इस समय मध्यम स्तर का कोहरा हो सकता है। इस दौरान तापमान 19 से 20 डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है, और आठ से नौ डिग्री सेल्सियस तक रह सकता है।

31 दिसंबर को पिछले तीन वर्षों में सबसे ठंडा दिन था। 31 दिसंबर 2020 को पहले भी 16.4 डिग्री सेल्सियस का तापमान हुआ था। इसके बाद वर्ष के आखिरी दिन इस बार सबसे कम तापमान हुआ।   

  मैप में देखें धुंध की चादर








स्वास्थ्य