‘गांधी महापुरुष तो मोदी…’ उपराष्ट्रपति धनखड़ ने प्रधानमंत्री से की तुलना; भड़के विपक्षी दल

‘गांधी महापुरुष तो मोदी…’ उपराष्ट्रपति धनखड़ ने प्रधानमंत्री से की तुलना; भड़के विपक्षी दल

30 नवम्बर 2023
उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ द्वारा प्रधानमंत्री मोदी की महात्मा गांधी से तुलना को लेकर विपक्ष ने सवाल उठाए हैं। विपक्षी नेताओं ने उपराष्ट्रपति धनखड़ के बयान की आलोचना की है। कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने उपराष्ट्रपति के बयान की निंदा की है। उन्होंने कहा कि उपराष्ट्रपति ने सभी हदें पार कर दी हैं।

उपराष्ट्रपति ने बापू से की पीएम मोदी की तुलना
दरअसल, उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ सोमवार को महाराष्ट्र के मुंबई के ओपेरा हाउस में श्रीमद राजचंद्र की जयंती समारोह में शिरकत करने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी की तुलना राष्ट्रपिता महात्मा गांधी से कर दी।

इस शताब्दी के युगपुरुष नरेंद्र मोदी हैं- उपराष्ट्रपति
उपराष्ट्रपति धनखड़ ने कहा कि मैं आपको एक बात कहना चाहूंगा, पिछली शताब्दी के महापुरुष महात्मा गांधी थे, इस शताब्दी के युगपुरुष नरेंद्र मोदी हैं। महात्मा गांधी ने सत्य और अहिंसा से हमें अंग्रेजों की गुलामी से छुटकारा दिलाया, भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को प्रगति के उस रास्ते पर डाल दिया है, जिस पर हम सदैव देखना चाहते थे।
उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने इस बयान के माध्यम से विभिन्न राजनीतिक पक्षों में विवाद पैदा कर दिया है। उनका कहना है कि महात्मा गांधी और प्रधानमंत्री मोदी दोनों ही अपने युग के महापुरुष हैं, लेकिन इससे उत्तेजना पैदा हो रहा है।
इस पर कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने उपराष्ट्रपति की तुलना की है और उनके बयान को आलोचना की है। टैगोर ने कहा, “उपराष्ट्रपति ने सभी हदें पार कर दी हैं और उन्होंने देशवासियों को गुमराह किया है। उन्हें विचारशीलता बनाए रखने के लिए उन्होंने इस बयान का इस्तेमाल किया है।”
उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के बयान के बाद, राजनीतिक दलों ने इसे चुनावी मुद्दा बना दिया है
https://twitter.com/i/flow/login?redirect_after_login=%2FVPIndia
कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ के बयान की निंदा की है, कहते हुए कि चापलूसी की एक सीमा होती है और इससे उन्होंने सभी हदें पार कर दी हैं। उन्होंने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म एक्स पर लिखा, “अगर आप प्रधानमंत्री मोदी की तुलना महात्मा गांधी से करते हैं तो यह शर्मनाक है।”

दूसरी ओर, बसपा सांसद दानिश अली ने भी उपराष्ट्रपति के बयान पर प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा, “आज उपराष्ट्रपति ने कहा पिछली शताब्दी के महापुरुष महात्मा गांधी थे, इस शताब्दी के युगपुरुष नरेंद्र मोदी हैं। मैं उपराष्ट्रपति से पूछना चाहूंगा की संसद में प्रधानमंत्री के ही दल के सांसद द्वारा एक समुदाय विशेष को अपशब्द इस्तेमाल करने की छूट दे कर किस नये युग की शुरुआत की गई है।”

उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ ने प्रधानमंत्री मोदी को महात्मा गांधी से तुलना करते हुए कहा कि इस शताब्दी के युगपुरुष नरेंद्र मोदी हैं और उन्होंने देश को प्रगति के उस रास्ते पर डाल दिया है, जिस पर हम सदैव देखना चाहते थे। इसके परिणामस्वरूप, राजनीतिक दलों के बीच विवाद और आलोचना का माहौल बढ़ गया है।

कांग्रेस सांसद मणिकम टैगोर ने उपराष्ट्रपति के बयान को चापलूसी की सीमा में रखकर उनकी निंदा की है। उनका कहना है कि इस तरह के बयान से सभी हदें पार कर दी जाती हैं और यह उदारता और विचारशीलता की भावना को कमजोर करता है।

बसपा सांसद दानिश अली ने भी उपराष्ट्रपति की तुलना की और सवाल किय

देश पोलटिकल